जमशेदपुर:-बागबेड़ा जलापूर्ति योजना के विरोध में स्थानीय लोगों में आक्रोश कहां"पानी नहीं तो वोट नहीं" एक दिवसीय उपवास




जमशेदपुर :-  बागबेड़ा के 11 बस्तियों में जलापूर्ति के लिए बिछाए जाने वाली पाइप लाइन का कार्य रेलवे के अड़ंगे के कारण पूरा नहीं हो पा रहा है। जिससे अब स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है। सोमवार को इस मुद्दे को लेकर जनप्रतिनिधियों ने एक दिवसीय उपवास उपायुक्त कार्यालय के समक्ष रखा। वही स्थानीय लोगों का कहना है पानी नहीं तो वोट नहीं का नारा उपायुक्त कार्यालय में गूंजने लगा है। उधर

::::::::::::::::::::::::::::::::::::

स्थानीय जिला परिषद सदस्य किशोर यादव के नेतृत्व में बागबेड़ा के जनप्रतिनिधियों ने बागबेड़ा जलापूर्ति योजना के तहत घरों तक पहुंचाएं जाने वाली पानी के लिए बिछाई जा रही पाइप लाइन के लिए रेलवे द्वारा अनापत्ति पत्र नहीं दिए जाने के कारण पाइप लाइन बिछाने का कार्य पिछले कई महीनों से अधूरा पड़ा हुआ है। इस कारण अब तक यहां रहने वाले हजारों लोगों के घरों तक पानी नहीं पहुंच पाया है अब यहां के जनप्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन से हस्तक्षेप कर जल्द से जल्द पाइप लाइन बिछाने का कार्य पूरा करवाए जाने की मांग को लेकर एक दिवसीय उपवास रखा। उधर किशोर यादव ने कहा कि 25 घंटा उपवास के बाद अगर जिला प्रशासन की नींद नहीं खुली तो मुख्यमंत्री आवास के समीप उपवास में बैठेंगे ।

:::::::::::::::::::::::::::::::::जमशेदपुर से अभिजीत की रिपोर्ट