टाटा स्टील नोआमुंडी ने मनाया ‘तंबाकू निषेध दिवस’ • टाटा स्टील हॉस्पीटल में किशोर-किशोरियों के लिए जागरुकता सत्रों का आयोजन जगरुकता रैली में 200 से अधिक विद्यार्थियों, कर्मचारियों और समुदाय के लोगों ने लिया हिस्सा


संतोष वर्मा। नोआमुंडी, ओएमक्यू डिवीजन, टाटा स्टील ने नोआमुंडी में आज ‘‘तंबाकू और हृदय रोग’’ विषय पर तंबाकू निषेध दिवस मनाया। श्री पार्थसारथी मिश्रा, चीफ, ओएमक्यू, टाटा स्टील इस अवसर पर मुख्य अतिथि थे। 

आयोजन के तहत डिवीजन के कर्मचारियों ने तंबाकू सेवन से जुड़े खतरों और तंबाकू की खपत रोकने के लिए प्रभावी नीतियों की वकालत करने के लिए नोआमुंडी में एक रैली निकाली। श्री मिश्रा ने डॉ. धीरेंद्र कुमार, चीफ मेडिकल ऑफिसर, टाटा स्टील नोआमुंडी हॉस्पीटल और श्री संजीत अध्या, हेड, ऑपरेशंस, नोआमुंडी आयरन माइन, टाटा स्टील समेत नोआमुंडी मजदूरी यूनियन के पदाधिकारियों की उपस्थिति में रैली को हरी झंडी दिखायी। 

स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स से आरंभ होकर टाटा स्टील हॉस्पीटल में समाप्त हुई इस रैली में 200 से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया। रैली के दौरान आम जनता के बीच तंबाकू के कुप्रभावों के संदेश वाली पर्चियों का वितरण किया गया। जागरूकता पैदा करने के लिए इसी प्रकार की पर्चियां टाटा स्टील हॉस्पीटल, नोआमुंडी में आने वाले मरीजों के बीच भी बांटी गयी। इसके अलावा, डॉ. कुमार ने हॉस्पीटल में किशोर-किशोरियों के लिए तंबाकू निषेध पर एक जागरूकता सत्र भी संचालित किया.

डॉ. कुमार ने सभी प्रतिभागियों से हॉस्पीटल एवं अन्य स्थानों को ‘तंबाकू मुक्त’ स्थान बनाने का आग्रह किया। डॉ. अशोक कुमार मोहंती, डॉ. दिनेश कुमार, डॉ. एस रथ, डॉ. जे माझी और हॉस्पीटल की मैट्रन सुश्री स्वास्तिका दास ने मानव के शरीर पर तंबाकू के दुःश्प्रभावों और इसके सामाजिक-आर्थिक प्रभावों पर प्रकाश डाला.

गौरतलब है कि हर वर्ष 31 मई को पूरे विश्व ‘तंबाकू निषेध’ दिवस मनाया जाता है। यह दुनिया भर में एक दिन के लिए किसी भी रूप में तंबाकू के सेवन से दूर रहने के लिए प्रेरित करता है।