न्यूनतम वेतन की मांग को लेकर ठेका श्रमिकों का उपायुक्त कार्यालय में प्रदर्शन

न्यूनतम वेतन की मांग को लेकर ठेका श्रमिकों का उपायुक्त कार्यालय में प्रदर्शन


झारखंड--जमशेदपुर :- शहर एवं आसपास में रहने वाले असंगठित क्षेत्र के ठेका श्रमिकों को न्यूनतम वेतन देने की मांग को लेकर यूथ इंटक की जिला कमेटी ने रैली निकाली और उपायुक्त कार्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन किया।

इस प्रदर्शन में  यूथ इंटक के नेता, समर्थक और भारी संख्या में ठेका मजदूर शामिल हुए। साकची आम बगान से रैली निकाल कर ये सभी उपायुक्त कार्यालय पहुंचे जहां प्रदर्शन करने के बाद इन लोगों ने उपायुक्त को अपनी मांगों से संबंधित एक मांग पत्र सौंपा। इधर इस प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे हैं यूथ इंटक के संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि झारखंड में रहने वाले ठेका मजदूरों को अन्य राज्यों के मुकाबले बेहद ही कम मजदूरी दी जाती है ऐसे में प्रदेश भर के ठेके श्रमिको और सामान्य मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी निर्धारित की जानी चाहिए। उन्होंने बताया कि महंगाई बढ़ती जा रही है और अभी इन श्रमिकों को 287 रुपये  रोजाना के हिसाब से न्यूनतम वेतन दिया जाता है जबकि दूसरे राज्यों में इससे दो गुना ज्यादा वेतन निर्धारित है। वैसे लोगों ने मांग की है कि झारखंड में न्यूनतम मजदूरी को फिर से पुनरीक्षित कर न्यूनतम मजदूरी तय की जानी चाहिए। यूथ इंटक ने घोषणा की है कि अगर न्यूनतम वेतन नहीं बढ़ाया जाता है तो जल्द ही उग्र आंदोलन किया जाएगा और राजभवन का घेराव किया जाएगा।