टाटा स्टील ने नोआमुंडी के बालीझरन में सफाई अभियान चलाया


संतोष वर्मा। विश्व पर्यावरण दिवस के पूर्व दैनिक गतिविधि के रूप टाटा स्टील ने अपने कर्मचारियों और सभी स्टेकहोल्डरों समेत समुदाय के लोगों का संवेदीकरण आरंभ कर दिया है। टाटा स्टील का इन्वायर्नमेंट डिपार्टमेंट पर्यावरण से संबंधित मुद्दों पर उन्हें संवेदनशील बनाने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रहा है। श्री पार्थसारथी मिश्रा, चीफ, एचआरएम, ओएमक्यू डिवीजन, टाटा स्टील ने आयोजित सफाई अभियान में युवाओं और युवतियों को प्रोत्साहित करने के लिए हिस्सा लिया। 

सुबह चेक डैम की सफाई के लिए 100 लोग नोआमुंडी के सेंट्रल कैंप के समीप जमा हुए। यहां से यह टीम सफाई के लिए बालीझरन नाला गये। टीएसआरडीएस द्वारा संचालित ‘रिश्ता प्रोजेक्ट’ के सदस्यों ने भी सफाई अभियान में सक्रिय योगदान दिया। दूसरी ओर, एसआईएस सेक्युरिटी सर्विसेज के कर्मियों और नोआमुंडी के स्थानीय ग्रामीणों ने भी तत्परता के साथ अभियान में हिस्सा लिया। सभी प्रतिभागियों ने प्लास्टिक और इसके जैसी सामग्रियों से परहेज करने का संकल्प लिया। 

हर वर्ष 5 जून को पर्यावरण के प्रति सम्मान जताने के लिए विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष इस दिवस का थीम ‘बीट प्लास्टिक पॉल्यूशन’ है। 

कार्यक्रम में श्री रोशन सिंह, मैनेजर, हॉर्टीकल्चर, नोआमुंडी आयरन माइन, टाटा स्टील और श्री राजीव कुमार सिंह, मैनेजर, लायजन, नोआमुंडी आयरन माइन, टाटा स्टील भी मौजूद थे।