किसी ने सही कहा है कि जब आप खुद को बदलना खत्म कर देते हैं, तो आप भी खत्म हो जाते हैं। इसलिए रुक जाने की

परिवर्तन


किसी ने सही कहा है कि जब आप खुद को बदलना खत्म कर देते हैं, तो आप भी खत्म हो जाते हैं। इसलिए रुक जाने की

बजाय खुद को बदलने की कोशिश करें।


ज्यादातर लोग जिंदगी में इसलिए विफल हो जाते हैं, क्योंकि वे खुद को बदलना नहीं चाहते। अगर लोग बदलाव पसंद करने लग जाएं तो फिर वे कई बड़े कारनामे कर सकते हैं। सी. नील स्ट्रेट कहते हैं, ‘परिवर्तन लीक पर चलने वाले व्यक्ति के लिए सबसे ज्यादा मुश्किल होता है, क्योंकि उसने अपने जीवन को उस सीमा तक घटा लिया है, जिसे वह आराम से संभाल सकता है।


ऐसा व्यक्ति किसी भी परिवर्तन या चुनौती का स्वागत नहीं करता है, भले ही उसके कारण वह प्रगति कर सकता हो।’ कुछ लोग गड्ढ़े में होते हैं और खुदाई करते जाते हैं। वे अपने काम करने का तरीका नहीं बदलते और परेशानी में फंसे रहते हैं। कुछ लोग जिद पर अड़े रहते हैं कि परिवर्तन नहीं करेंगे। वक्त की आंधी ऐसे लोगों को बर्बाद कर देती है। कुछ लोग बदलने की बजाय रुकना पसंद करते हैं। ऐसे लोग कहीं नहीं पहुंच पाते।


परिवर्तन की इच्छा

अगर आप नए तरीके नहीं अपनाएंगे तो नई विपत्तियां तैयार रहेंगी। कई बार सफलता बिल्कुल नजदीक होती है, पर इंसान खुद में बदलाव नहीं करता और सफलता के रास्ते पर चलने से मना कर देता है। दुनिया में वही इंसान सफल हुआ है, जिसने परिवर्तन को अपनाया है। एक परिवर्तन से दूसरे परिवर्तन की राह तैयार होती है और हमें विकास का मौका मिलता है। परिवर्तन की इच्छा को हमेशा कायम रखें। जो बदलाव से डर जाता है, वह खुद की क्षमताएं भूल जाता है।


अगर आप नए लक्ष्य हासिल करना चाहते हैं तो आपको नए तरीकों से काम करना होगा। बिना बदलाव के आप कुछ बड़ा हासिल नहीं कर सकते हैं। बदलाव के लिए खुद को तैयार करना बहुत जरूरी है। बदलाव से ही सफलता मिल सकती है। बदलाव का स्वागत करना सीखिए।


लगातार मेहनत

अगर आप यह अनुमान लगा सकते हैं कि कब दृढ़ रहना है और कब झुकना है तो आपकी सफलता तय है। लगातार परिवर्तन के कारण हम बेचैन हो सकते हैं, पर परिवर्तन न हो तो हम भयभीत हो जाते हैं। वह व्यक्ति सबसे अच्छा है, जो अपने सिद्धांतों से समझौता किए बिना परिस्थितियों से तालमेल बैठा सकता है।


बदलाव का मतलब यह नहीं है कि इंसान अपने जीवन मूल्यों में ही बदलाव कर दे। बदलाव का मतलब है- लक्ष्य को हासिल करने के लिए सही रास्ते की तलाश करना। परिवर्तन एक दिन में नहीं होता। इसके लिए लगातार मेहनत करनी पड़ती है। लक्ष्य हासिल करने के लिए परिवर्तन को आत्मसात करना जरूरी है। परिवर्तन के बिना उत्थान संभव नहीं है। परिवर्तन से ही आपके जीवन में खुशियों का आगमन हो सकता है।