झारखंड मुक्ति मोर्चा ने मनाई पटमदा में संकल्प दिवस


जमशेदपुर :- हूल दिवस के अवसर पर जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र के पटमदा और बोड़ाम मैं संकल्प सभा का आयोजन किया गया। इस सभा का विधिवत शुभारंभ झारखंड मुक्ति मोर्चा के जुझारु युवा नेता  जुगल किशोर मुखी  के नेतृत्व में सिद्धू कानू की तस्वीर पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया गया। मौके पर उपस्थित मुख्य अतिथि जुगल किशोर मुखी ने कहां की सिद्धू कानू ने देश की एकता अखंडता एवं आजादी के लिए सबसे पहले आंदोलन 1855 में किया था। सिद्धू कानू, टाना भगत और बिरसा मुंडा के आदर्शों पर चलकर बेहतर झारखंड निर्माण  कैसे होगा उस पर युवाओं को आगे बढ़कर विचार विमर्श करना चाहिए। जल जंगल जमीन पर आदिवासियों का अधिकार है। इस से बेदखल करने वालों को कभी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हूल सभा में भूमि अधिग्रहण बिल का विरोध करने का निर्णय लिया गया । वही महागठबंधन की ओर से बुलाई गई झारखंड बंद को नैतिक समर्थन देने की बात गांव वालों के सामने रखा गया। कार्यक्रम में झारखंड मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ कार्यकर्ता सहित पटमदा और बोड़ाम से आए सैकड़ों ग्रामीण मौके पर उपस्थित थे।