बैंक में नहीं खुल रहा है खाता, परेषान हैं लोग

                         बैंक में नहीं खुल रहा है खाता, परेषान हैं लोग

यह भी पढ़े  हैदरनगर में राजद पंचायत अध्यक्षों का किया गठन 2019 की तैयारी में कार्यकर्ताओं से जुटने का आह्वान

हैदरनगर,पलामूः 

जिले के ग्रामीण इलाके में कार्यरत ग्राहक सेवा केंद्र में विगत छह माह से खाता खुलना बंद है। प्रावधान के अनुसार सरकारी विद्यालयों में नामांकित बच्चों को छात्रवृति व पोषाक की राषि बैंक खाते में ही देना है। इसके अलावा सरकार की सभी योजनाओं के लाभुकों की राषि भी खाते में दी जाती है। खाता खुलवाने को लोग कभी ग्राहक सेवा केंद्र व एसबीआइ के षाखा में दौड़ लगा रहे है। एसबीआइ की षाखा में खाता खोला जा रहा है। मगर सिर्फ बड़े लोगों का। या यूं कहें की पैसे वालों का खाता खुल रहा है। छात्रवृति व अन्य प्रात्साहन राषि प्राप्त करने वालों को बैंक प्रबंधक ग्राहक सेवा केंद्र में खाता खुलवाने को कहकर अपना पल्लु झाड़ रहे हैं। जबकि ग्राहक सेवा केंद्र संचालकों ने बताया कि विगत छह माह से खाता खोलने का काम बंद है। वह खाता खोलते हैं। मगर खाता नंबर जेनरेट नहीं होता है। उन्होंने षाखा प्रबंधक व आरबीओ कार्यालय में अपनी बात रखि। मगर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। षिक्षा विभाग के सीआरपी प्रमोद सिंह ने बताया कि उन्होंने भी विद्यालय के बच्चों का खाता खुलवाने के लिए भारतीय स्टेट बैंक हैदरनगर के षाखा प्रबंधक से संपर्क किया। उन्होंने ग्राहक सेवा केंद्र में खाता खुलवाने की बात कही। प्रमोद सिंह ने बताया कि जिला की बैठक में बैंक के प्रतिनिधि ने खाता खोलने में किसी तरह की परेषानी नहीं होने का वादा किया था। मगर सभी ग्रामीण इलाके के लोग खाता नहीं खुलने को लेकर परेषान हैं। उन्होंने बताया कि बच्चों का खाता नहीं खुलने की वजह से उन्हें प्रोत्साहन राषि व पोषाक राषि नहीं मिल पा रही है। उधर सरकार की योजनायें, प्रधानमंत्री आवास योजना, षौचालय निर्माण योजना, मुख्यमंत्री जननी षिषु योजना समेत अन्य योजनाओं के लाभुकों को राषि नहीं मिल पा रही है। उनसे विभागीय अधिकारी बैंक खाता देने की बात करते हैं। जो निकट भविशय में असंभव दिख रहा है। इस स्थिति में सरकार की योजनाओं पर भी इसका प्रभाव पड़ेगा।