जब शिक्षक ही समय पर नहीं आते तो कैसा होगा बच्चोँ का भविष्य।

अभिभावकों व छात्र -छात्रों  नें स्कूल मे लगाया ताला


संवाददाता-विवेक चौबे

कांडी- प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत-ग्रामपंचायत-घटहुआँ कला में अवस्थित विद्यालय में भारी अनियमत्ता बरती जा रही है।
कहा जाता है कि शिक्षकों के हाथ मे होते हैं विद्यार्थीओं का भविष्य,किन्तु शिक्षा से कोसों हैं दूर यहां के विद्यार्थी।
जब शिक्षक ही समय पर नहीं आते तो कैसा होगा बच्चोँ का भविष्य।
शिक्षक प्रतिदिन देर से आते हैं।आज भी समय पर शिक्षक नहीं पहुचने की खबर सुनते ही अध्यनरत विद्यार्थियों के माता- पिता विद्यालय पहुंच कर देखे तो नित्यदिनों की भांति शिक्षक आज भी नदारद थे।
इसी मौके पर उपमुखिया अजीज अंसारी ने भी पहुंच कर बच्चों से जायजा लिया। काश कभी इसके पूर्व अजीज अंसारी विद्यालय पर ध्यान दिए होते तो प्रतिदिन की भांति आज भी शिक्षक गलती नहीं करते।किन्तु अजीज अंसारी ने बच्चों के भविष्य हेतु कभी ना ही शिक्षकों पर दबाव बनाया ना ही कभी विद्यालय में पहुंच कर बच्चों से जायजा लिया। ग्रामीणों ने विद्यालय में जड़ दिया ताला। 
काफी देर बाद शिक्षक-अखलेश लाल,ललन राम,शिक्षिका-आशा गुप्ता फिर प्रधानाध्यापक-सुनील कुमार राम पहुंचे।
ग्रामीणों ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानाध्यापक काफी देर से प्रतिदिन आते हैं।जबकि प्रधानाध्यापक ही देर से विद्यालय पहुंचते हैं तो विद्यालय का क्या हाल होगा।सैकड़ों बच्चों का भविष्य अंधकार में है।
उपस्थित विवेक कुमार,शुशील कुमार,सुभम कुमार,रौशन चौबे,पवन कुमार,सूर्य कुमार,मुकेश कुमार सहित सभी विद्यार्थियो ने बताया कि अंडा सड़ा हुआ व फल में कच्चा केला दिया जाता है।भर पेट भोजन नहीं दिया जाता है।विद्यार्थीयों को मिलता है कच्चा अंडा,कुछ विद्यार्थीयों को मिलता है उबाला हुआ अंडा।विद्यालय का बना हुआ खाना दाई ले जाति है । 
बताते चलें कि इस विद्यालय के प्रबंधन समिति के अध्यक्ष-प्रतिमा देवी,संयोजिका-मंजू देवी हैं।
मौके पर-बीडीसी प्रतिनिधि-जयमंगल राम,ओमप्रकाश कुमार,रिशु कुमार,जित्येन्द्र मालाकार,अरुण गुप्ता,संतोष गुप्ता सहित अन्य लोग उपस्थित थे।