क्या ऐसे ही बनेगा खुले में सौच मुक्त पलामू ,मुख्य सड़क में 50 कि.मी तक नही है एक भी सौचालय

छतरपुर से अरविन्द अग्रवाल की रिपोर्ट:-.             छतरपुर( पलामू) अनुमंडल मुख्यालय के नगर पंचायत क्षेत्र के NH 98 बस स्टैंड थाना के समीप स्थित शौचालय अब तक शुरू नहीं कराया जा सका वहीं झारखंड सरकार द्वारा छतरपुर नगर पंचायत बनने के बाद भी बदहाल की स्थिति मैं गुजर रहा है जबकि छतरपुर के रास्ते दिल्ली कोलकाता,पटना, गया, बनारस, रायपुर, रांची आदि जगहों तक के लिए जाने वाले यात्री बसे खुलती है परंतु छतरपुर में एक शौचालय ना होना दुर्भाग्य है बस स्टैंड के पास निवास करने वाले मुनीर अंसारी, रंजीत मालाकार, मनोज कुमार, मुन्ना कुमार, अवध प्रसाद,दिनेश ठाकुर, ने बताया कि पूरे छतरपुर बाजार क्षेत्र में एक भी सार्वजनिक शौचालय नहीं है बस स्टैंड के पास लगभग 2 वर्ष पहले लगभग दस लाख की लागत से शौचालय तो बना लेकिन चालू नहीं हो सका।बस स्टैंड आने जाने वाले यात्रियों को खासकर महिलाओं को बेहर अपमानजनक स्थिति का सामना करना पड़ता है शौचालय के बगल में यात्री शेड भी बना वह भी गंदगी का अंबार भरा है ।जिससे यात्रियों को बैठना भी मुश्किल हो गया है सरकार द्वारा बताया जाता है कि स्वच्छ भारत बनाना है लेकिन शौचालय बना वह भी दरवाजे में ताला लटका हुआ मिला वही बाहर में गंदगी का अंबार देखने को मिल रहा है इस संबंध में टेलीफोनिक द्वारा छतरपुर के भाजपा उपाध्यक्ष अशोक सोनी से बात करने पर उन्होंने बताया कि इस्टीमीट में जितना था वो शौचालय बनकर तैयार है लेकिन पानी के चलते शौचालय बंद पड़ा है जो इस्टीमीट में नहीं था आप समझ सकते हैं कि योजना शौचालय के बगैर पानी के पास होना विचारनीय तथ्य है  और बगैर पानी का शौचालय सर्विस में लाया जा सकता है सबसे बड़ी सवाल है हालांकि इस बाबत भाजपा उपाध्यक्ष ने बताया कि पानी का व्यवस्था को लेकर मैंने सांसद महोदय एवं विधायक महोदय से बात किया उन्होंने बताया कि डीप बोर के लिए व्यवस्था बनाई लेकिन छतरपुर के कुछ लोगों ने डीप बोर मशीन को लगने नही दिया और अब तक शौचालय का ताला नहीं खुला।