बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन नहीं होगी चालू : रेल मंत्री

बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन नहीं होगी चालू : रेल मंत्री


15 जून 2017 को बंद हुई थी धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन। इस रूट पर 26 जोड़ी मेल-एक्सप्रेस चलती थी।

धनबाद। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने साफ कर दिया है कि बंद धनबाद-चंद्रपुरा (डीसी) रेल लाइन अब चालू नहीं होगी। उन्होंने कहा है-डीसी लाइन का विकल्प तैयार करने के लिए नई रेल लाइन बिछाई जाएगी। जल्द से जल्द रेल लाइन बिछे इसके लिए केंद्र सरकार गंभीर है।


बीसीसीएल की कोयला खदानों का जायजा लेने पहुंचे केंद्रीय रेल और कोयला मंत्री गोयल ने डीसी लाइन पर बड़ा बयान दिया। उन्होंने मीडिया के सवालों को जवाब देते हुए कहा कि डीसी लाइन पर अब रेल परिचालन संभव नहीं है। भूमिगत आग से जानमाल को खतरा है। एक भी जान चली गई तो बहुत बड़ा घातक सिद्ध होगा। रेल लाइन बंद होने से जनता की परेशानियों को दूर करने के लिए मंत्री ने वैकल्पिक लाइन तैयार करने की बात दुहराई।


15 जून 2017 से बंद है डीसी लाइन: भूमिगत आग से खतरा बताते हुए 15 जून 2017 को धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंद कर दी गई थी। इसके बाद से रेल लाइन चालू करने की मांग हो रही है। रेल लाइन बंद होने के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल पहली बार शनिवार को धनबाद आए थे। धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन धनबाद और बोकारो जिले के 14 स्टेशनों से होकर गुजरती है। धनबाद और राजधानी रांची को जोड़ने वाली यह लाइन रेलवे की व्यस्त लाइनों में एक थी। मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों के अलावा प्रतिदिन तीन दर्जन से ज्यादा मालगाड़ियां चलती थीं। जबकि प्रति वर्ष सफर करने वाले रेल यात्रियों की संख्या एक करोड़ के आस-पास है।