महाअष्टमी पर हुआ दीपदान, बलि भी दी गयी समेत पलामू की महत्वपूर्ण खबरें एक क्लिक में ।

महाअष्टमी पर हुआ दीपदान, बलि भी दी गयी 

डालटनगंज, 17 अक्टूबर: आस्था, उमंग और उल्लास का पर्व दशहरा अपने परवान पर है। मां दुर्गा की दिव्य प्रतिमा और भव्य पंडाल श्रद्धालुओं के मन मोह रहे हैं। हर वर्ग के लोग मां दुर्गा के दर्शन के लिए पूजा पंडालों में पहुंच रहे हैं। बुधवार की दोपहर 12.27 बजे  महाअष्टमी पर संधि पूजा हुई। सामूहिक दीपदान के बाद बलि दी गयी। भक्तों ने मां दुर्गा की अराधना कर सुख-समृद्धि की कामना की। शहर क्षेत्र के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में संधी पूजा (दीप दान) की गयी। 

पंडालों में पुजारी ने मां दुर्गा की आराधना की और वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दीप दान कराया। कुंआरी कन्याओं का विधि पूर्वक पांव को पूज कर उनकी आरती उतारी गयी। इसके बाद सामूहिक रूप से सभी कुंआरी कन्यााआंे को मिठा भोजन कराया गया। 

जनकपुरी, ठाकुरबाड़ी, जीएलए काॅलेज गेट स्थित मां दुर्गा मंदिर, रेड़मा काली मंदिर, छह मुहान काली मंदिर सहित अन्य पूजा पंडालों में कुंआरी कन्या पूजन व दीप दान का आयोजन किया गया।

ड्राई डे पहले टास्क फोर्स को कामयाबी, 14 लीटर अवैध विदेशी शराब के साथ एक गिरफ्तार

डालटनगंज, 17 अक्टूबर: दुर्गा पूजा के अवकाश (शुक्रवार) को लेकर उत्पाद विभाग ने जिले के विभिन्न स्थानों पर स्टाॅक कर रखे गये शराब के अड्डों पर छापामारी अभियान चलाया। इस दौरान भारी मात्रा में विदेशी शराब जब्त करने में उत्पाद विभाग की टीम को सफलता मिली है। दुर्गा पूजा को लेकर उत्पाद विभाग अवैध शराब के विरूद्ध प्रतिदिन लगातार छापामारी अभियान जोर शोर से चला रहा है। इस दौरान जिले के विभिन्न स्थानों से भारी मात्रा में देशी और विदेश शराब भी बरामद की जा रही है। आज उत्पाद विभाग की टीम ने उत्पाद निरीक्षक सौरव तिवारी, कांग्रेस कुमार ने नावाजयपुर थाना प्रभारी संतोष कुमार के सहयोग से थाना क्षेत्र के अखरा, नावाजयपुर, धंगरडीहा, कंचनपुर और रूदीडीह आदि स्थानों पर छापामारी अभियान चलाया। इस दौरान विदेश शराब की तकरीबन चार पेटी के साथ अवैध देशी शराब और जावा महुआ को बरामद किया गया है। छापामारी अभियान के दौरान एक व्यक्ति को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है, जबकि एक अन्य भागने में सफल रहा। 

निगम को मिला 10 कचरा उठाव वाहन

शहर को सुंदर और साफ बनाने में शहरवासी करें सहयोग: उपायुक्त

डालटनगंज, 17: नगर निगम ने शहर को साफ, सुंदर और स्वच्छ बनाने का अभियान शुरू कर दिया है। बुधवार को उपायुक्त डा. शांतनु कुमार अग्रहरि, मेयर अरूणा शंकर, डिप्टी मेयर मंगल सिंह और वार्ड पार्षदों ने संयुक्त रूप 10 वाहनों को (कचरा डंप करने वाला पिकअप) नारियल फोड़कर और हरी झंडी दिखाकर कचरा उठाव के लिए रवाना किया। 

मौके पर उपायुक्त श्री अग्रहरि ने कहा कि शहर को साफ और सुंदर बनाने के लिए प्रतिदिन कचरा उठाव के लिए वाहन उपलब्ध कराया गया है। वाहनों की सहायता से प्रतिदिन शहर के विभिन्न स्थानों से कचरा का उठाव होगा। शहर को साफ और सुंदर बनाने मंे आम लोगों को भी सहयोग करना होगा, तभी शहर संुदर दिखेगा। उन्होंने कहा कि शहरवासी जहां-तहां कूड़ा-कचरा नहीं फंेके। निगम द्वारा कचरा फेंकने के लिए जहां पर कंटेनर लगाया गया है, उसी कंटेनर में ही कचरा फेंके, जिससे की सफाई कर्मियों को कचरा उठाव में दिक्कतें नहीं हो। 

मेयर अरूणा शंकर ने कहा कि निगम को स्वच्छ और सुंदर आम लोगांे के सहयोग के बिना नहीं बनाया जा सकता है। कचरा उठाव के लिए वाहन की आवश्यकता को देखते हुए फिलहाल 10 वाहन उपलब्ध कराया गया है। जरूरत पड़ने पर और कचरा उठाव वाहन निगम को उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि शहर को साफ और सुुंदर बनाने में शहरवासी सहयोग करे। वार्ड पार्षद भी अपने-अपने वार्ड में लोगों को प्रतिदिन सफाई के प्रति जागरूक करने का काम करे। 

मौके पर कार्यपालक पदाधिकारी अजय साव, निगम के ब्रांड एंबेसडर सह माटी कला बोर्ड के सदस्य अविनाश देव, सरस जैन, रेडक्रास के सचिव डा. सत्यजीत गुप्ता, इद्रजीत सिंह, डिम्पल, कृष्ण प्रसाद अग्रवाल, राजदेव उपाध्याय, वार्ड पार्षद विवेकानंद त्रिपाठी, राजीव शुक्ला, मनोज कुमार बिल्लू, राजू राम, अनुप कुमार, कमर यासमीन, हंसबून निशा, अंजना देवी, सुशीला कुमारी, निगम कर्मी प्रधान सहायक अशोक कुमार सिंह, अभियंता विनय कुमार सिंह, अनूप कुमार, नीरज कुमार आदि उपस्थित थे। 

104 वर्ष पुराना है दुर्गाबाड़ी का इतिहास

बांग्ला रीति रिवाज से होती है विशेष पूजा

डालटनगंज 17 अक्टूबर: श्री श्री बंगीय दुर्गाबाड़ी पूरे पलामू के श्रद्धालुओं की आस्था से जुड़ा है जानकार बताते हैं कि सन् 1914 से यहां दुर्गापूजा की परंपरा चल रही है। बांग्ला रीति रिवाज से मां दुर्गा की आराधना होने से इस मंदिर की श्रद्धालुओं में अलग पहचान बन गई है। इस मंदिर में शहरी और ग्रामीण इलाकों समेत दूसरे जिलों के श्रद्धालु भी दुर्गा अध्यात्म का अमृतपान कर स्वंय को धन्य महसूस करते हैं।

दुर्गापूजा उत्सव के दौरान पूरे शहर में भव्य पंडाल बनाए जाते हैं। आकर्षक नीवीनतम तकनीकि से बनी ‘मंा’ की प्रतिमाएं एवं मनमोहक झांकियों के दर्शन करने के बाद भी श्रद्धालु जब तक दुर्गाबाड़ी में ‘माता’ के दर्शन नहीं करता उसको संतुष्टि नहीं होती। 

कोयल नदी के मनोरम तट पर अवस्थित दुर्गाबाड़ी की छठ धार्मिक उत्सवों के समय निराली होती है। पंडाल पर अंधाधुंध खर्च करने के बजाय बंगाली दुर्गापूजा ऐसोसिएशन के पदधारी पूजा अनुष्ठान और मां दुर्गा की प्रतिमा के निमार्ण पर पूरा ध्यान देते हैं। इस सारी व्यवस्था का जिम्मा होता है युवा समाजसेवी प्रभास दास गुप्ता यानि सदन जी और सुमित भट्टाचार्य, गौतम घोष, सैकत चट्टोपाध्याय आदि की उत्साही टीम पर। इस टीम को अपने अन्य सहयोगी मित्रों के साथ पूरे परिसर में मात्र सक्रिय ही नहीं देखा जा रहा है बल्कि इनके मधुर व्यवहार से श्रद्धालु भी बहुत खुश महसूस करते हैं। दुर्गाबाड़ी के विशाल परिसर में चाय नाश्ता, चाट पकौड़ी काफी शाॅप, खिलौना स्टाॅल एवं मिनी रेस्टुरेंट (अमनफूडप्लाजा के सौजन्य से) परिवारों के लिए किए सुखद मनोरंजन का साधन प्रस्तुत करते हैं। इस मंदिर में मां दुर्गा की कृपा श्रद्धालुओं  में बने रहने की मान्यता मानी जाती है। बंगाल के कलाकार ढाकी व परोहित, कोलकता के शिल्पी द्वारा प्रतिमा का निर्माण साज-सज्जा एवं धूना नाच आकर्षण का केन्द्र है। 

दुर्गाबाड़ी  की स्थापना में अहम योगदान था बंगाली समाज के अगुवा और डालटनगंज के लोकप्रिय विधायक अमिय कुमार घोष (गोपा बाबू), पुन्दरीकाक्ष मैत्रा, कोनाही मैत्रा, जेपी राय, प्रफुहल कुमार गुप्ता और उनके मित्रमंडल का था। इसलिए इन महानभावों को श्रद्धापूर्वक स्मरण किए बिना यह अनुष्ठान अधूरा माना जाएगा। श्रद्धालु इनको नमन करते हैं। मां की कृपा सब पर बनी रही यह कहते हैं  सदन जी। एसोसिएशन ने समस्त पलामूवासियों  को दुर्गापूजा पर हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं।

डालटनगंज 17 अक्टूबर: पलामू जिले के सभी पूजा पंडालों के पट खुलने के बाद मां के दर्शन करने के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी है। देर रात तक पूजा पंडाल लोगांे से गुलजार हो रहे हैं। पूजा-अर्चना कर मां भवानी से सुख, शांति व समृद्धि की कामना की जा रही है। मां की प्रतिमा देख भक्त धन्य हो जा रहे हैं। पूजा को लेकर बच्चों से लेकर बड़ों तक में खासा उत्साह दिख रहा है। शहर के अलावा दूर दराज के क्षेत्रों के लोग भी पूजा पंडालों में पहुंच रहे हैं। लोगांे की भीड़-भीड़ के कारण पूजा स्थल मेला का रूप ले लिया है।   

डालटनगंज शहरी क्षेत्र के आढ़त रोड स्थित जयभवानी संघ का पूजा पंडाल आकर्षक का केन्द्र बना हुआ है। शेष नाग के फन पर श्रीकृष्ण को दर्शा कर इसकी खुबसूरती बढ़ा दी गयी है। इसी तरह सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति साहित्य समाज चैक द्वारा बनाया गया पूजा पंडाल की भव्यता लोगों को अपनी ओर खींच रहा है। 

बाईपास रोड स्थित विद्युत कार्यालय परिसर में जय मां शेरावाली क्लब रेड़मा की ओर से बनाया गया पूजा पंडाल चर्चा का केन्द्र बना हुआ है। इसी तरह बैरिया चैक स्थित जीनियस क्लब, जीएलए काॅलेज के पास मां जगदंबे क्लब जनकपूरी में दुर्गा पूजा समिति, रेड़मा ठाकुरबाड़ी में दुर्गा पूजा समिति, रेलवे स्टेशन परिसर में रेलवे क्लब, दुकानदार संघ बेलवाटिका चैक के पास नवयुवक संघ, गुरूद्वारा के पास जय अंबे संघ, कान्दू मुहल्ला में जय एकता संघ, जेलहाता चैके के पास और बेलवाटिका चैक पर नवयुवक संघ, कन्नीराम चैक के पास बाल समाज, कुंड मुहल्ला में किशोर समाज, शहीद भगत सिंह चैके के समीप जनता सेवक संघ और चैनपुर के शाहपुर स्थित देवी मंडप परिसर और कोयलनदी तट स्थित एकता संघ में बनाये गये पूजा पंडालों में लोगांे की भारी भीड़ उमड़ रही है।

  वैध बिजली कनेक्शन से रौशन हो रहे हैं पूजा पंडाल

डालटनगंज 17 अक्टूबर: केन्द्रीय दुर्गापूजा महासमिति के अध्यक्ष के अथक प्रयास से शहर के 15 बड़े पंडालों में वैद्य बिजली कनेक्शन जारी हो गए हैं। पिछले दिनों सदर एसडीओ नंद किशोर गुप्ता की अध्यक्षता में सम्पन्न विशेष बैठक में निर्णय हुआ था कि दुर्घटनाओं को रोकने और जेनरेटर से उत्पन्न प्रदूषण से लोगांे को निजात दिलाने के लिए वैद्य ढंग से बिजली कनेक्शन जरूर पूजा पंडाल ले लें। बैठक में उपस्थित बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता ने प्रशासन और दुर्गापूजा महासमिति के अध्यक्ष को आश्वस्त किया कि वह कनेक्शन हेतु फार्म एक दिन में उपलब्ध करा देंगे। 

महासमिति के अध्यक्ष दुर्गा जौहरी ने बताया कि कल ही फार्म उपलब्ध कराए गए लेकिन पूजा पंडालों के प्रबंधकों ने शीघ्र कनेक्शन लगावा लिए। इस तरह जेनरेटर के शोर और धुएं से श्रद्धालुओं को मुक्ति मिल गई है। इस प्रक्रिया से डीजल की भी बचत होगी। अब आपात स्थिति में ही जेनरेटर चलेंगे। उन्होंने बताया कि अन्य पंडालों में भी वैद्य कनेक्शन की प्रक्रिया चल रही है।