पलामू: चैनपुर के चांदो में स्थिति तानवपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में-सड़कों पर सन्नाटा, आगजनी से भारी आर्थिक नुकसान समेत पलामू की अन्य महत्वपूर्ण खबरें एक क्लिक में देखें।

पलामू: चैनपुर के चांदो में स्थिति तानवपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में-सड़कों पर सन्नाटा, आगजनी से भारी आर्थिक नुकसान

डालटनगंज 20 अक्टूबर: पलामू जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत चांदो में दुर्गा पूजा मुर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटो में हुई हिंसक झड़प के बाद स्थिति तनावपूर्ण है, लेकिन नियंत्रण में है। उक्त गांव को पुंलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। गांव और उसके आस पास के क्षेत्र में धारा 144 लगा दी गयी है। हर आने-जाने वाले की विशेष तलाशी ली जा रही है। झड़प के बाद दोनों पक्षों को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है। रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गयी है।

                     क्षतिग्रस्त वाहनों की संख्या एक दर्जन पहुंची 

हिंसक झड़प में जलाए गए वाहनों की संख्या एक दर्जन के आस-पास पहुंच गयी है। रोजी-रोटी का मुख्य साधन 10 टेम्पो, एक बोलेरो, तीन मोटरसाईकल और करीब आधा दर्जन से ज्यादा घरों को आग से नुकसान पहुंचा है। हालांकि उपायुक्त डा. शांतनु कुमार अग्रहरि, पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा और डीएसपी सुरजीत कुमार गांव में कैंप किए हुए हैं। झड़प के बाद उक्त गांव में राज्य के कई जिलों से पुलिस बल मंगाकर तैनात किया गया है। नुकसान का आंकलन किया जा रहा है।

                      तीन किलोमीटर के दायरे में पुलिस का पहरा 

चांदो गांव के तीन किलोमीटर के क्षेत्र को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। हर आने जाने वाले व्यक्ति की तलाशी ली जा रही है। गांव में पूरी तौर पर सन्नाटा पसरा है। ग्रामीण डरे सहमे अपने घर में कैद हैं। सुरक्षा कारणों से गांव में तैनात पुलिस बल ग्रामीणों को घर से बाहर नहीं निकलने दे रही है। उपायुक्त शांतनु कुमार अग्रहरि, पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा घूम घूमकर गांव में हुई क्षति का जायजा लिया। उक्त गांव में तैनात पुलिस का नेतृत्व डीएसपी सुरजीत कुमार कर रहे हैं।

                  भारी आर्थिक नुकसान, रोजी-रोटी 

चांदो गांव के इश्तेयाक अहमद ने बताया कि दोनों समुदाय में हुई झड़प भविष्य के लिए शुभ संकेत नहीं है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की शाम की घटित घटना दुखद है। इसकी भरपायी नहीं की जा सकती है। इस घटना में उनका घर, दुकान और बाईक सहित कुछ डेढ़ लाख की संपत्ति जलकर खाक हो गयी है, जिससे वे बेरोजगार हो गए हैं।

चांदो के एजाबुल अंसारी का घर और चार दुकानें पूरी तरह से जल गयी है, जिससे उनके समक्ष भी रोजी रोटी की समस्या उत्पन्न हो गयी है। अली मोहम्मद अंसारी और रेयाज अंसारी, मंजर अंसारी का घर पूरी तरह से जल गया है। इश्तेयाक अंसारी के दो टेम्पो जला दिये गये हैं। अरमान अंसारी दो माह पूर्व एक नई बेलोरे खरीदा था, उसे भी उपद्रवियों ने आग के हवाले कर दिया।

विदित हो कि चांदो गांव में झड़प होना कोई नयी बात नहीं है। दो साल पूर्व भी वहां पर मूर्ति विसर्जन को लेकर दो समुदायों के बीच विवाद हुआ था, जिसे पुलिस ने अपनी तत्परता से हल कराया था। चांदों में पिकेट भी स्थापित है।

 

               एरिया कमांडर सहित छह गिरफ्तार, हथियारों का जखीरा बरामद

डालटनगंज, 20 अक्टूबर - टीपीसी नक्सलियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई के दौरान शुक्रवार को पलामू पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने नक्सलियों की कमर तोड़ते हुए जहां एरिया कमांडर सहित आधा दर्जन नक्सलियों को गिरफ्तार किया, वहीं कई हथियार और गोलियां बरामद करने में सफलता पायी। टीपीसी के नक्सलियों के पास से पुलिस ने चार रायफल, 304 गोली, एक वॉकी टॉकी बरामद किया है, जिसमें एक रायफल पुलिस से लुटी हुई है।एसपी इन्द्रजीत माहथा ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी की टीपीसी के सदस्य किसी घटना को अंजाम देने के लिए जिले के मोहम्मदगंज स्थित काशीसोत डैम के इलाके में सक्रिय हैं। सूचना के आलोक में अभियान एसपी अरुण कुमार सिंह, हुसैनाबाद डीएसपी मनोज कुमार और सीआरपीएफ की एक टीम बनाकर मौके पर छापामारी की गयी। इस दौरान कुलदीप यादव और विनोद पांडेय नामक टीपीसी के सदस्य को गिरफ्तार किया। हालांकि इस दौरान  बाकी के नक्सली भाग गए।पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कुलदीप यादव टीपीसी का एरिया कमांडर है। दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने कदला पहाड़ी के पास छापामारी की। वहां से दिलीप कुमार, अक्षय कुमार, पप्पू कुमार, जानकी उर्फ नवल किशोर को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार नक्सली जिले में हुई कई बड़ी आपराधिक घटनाओं में शामिल रहे हैं। मई 2018 में छत्तरपुर के हेसाग में टीपीसी ने सुरक्षाबलों पर हमला किया था। इस हमले में सुरक्षाबलों के जवाबी कार्रवाई में टीपीसी के तीन कमांडर मारे गए थे। पुलिस बरामद रायफल का पता लगवा रही है कि यह रायफल कहां से लूटी गई है।