मनातू के जंगल से हथियारों का जखीरा बरामद , पत्थरों की फांक में माओवादियों द्वारा छिपाकर रखे गए थे राइफल और गोली

                                          सीआरपीएफ एवं जिला बल की कार्रवाई में मिली बड़ी सफलता 

                                                  मनातू के जंगल से हथियारों का जखीरा बरामद 

                                        पत्थरों की फांक में माओवादियों द्वारा छिपाकर रखे गए थे राइफल और गोली

मेदिनीनगर। जिले के मनातू थाना क्षेत्र के धूमखांड़ जंगल से सीआरपीएफ एवं जिला पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई में नक्सलियों द्वारा छिपाकर रखे गये हथियारों का जखीरा बरामद किया है। बरामद हथियारों में 5 राइफल एवं 153 गोलियां शामिल हैं। पुरे मामले की जानकारी देते हुए पलामू के एसपी इंद्र्रजीत महथा ने आज पत्रकारों को बताया कि मनातू थाना के धूमखांड़ स्थित विद्यालय के उŸार-पूर्वी पहाड़ी पर प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी द्वारा हथियार छिपा कर रखे जाने एवं भविष्य में किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में होने की गुप्त सूचना मिली थी। इसी सूचना के आलोक में मनातू थाना एवं सीआरपीएफ 134 बटालियन द्वारा पहाड़ी पर सर्च अभियान चलाया गया। इसी क्रम में पहाड़ी पर पत्थरों की फांक में प्लास्टिक के तिरपाल में सुरक्षित ढंग से छिपाकर रखे गए पांच राईफल एवं 30.06 का 153 चक्र गोली बरामद हुआ। एसपी श्री महथा ने बताया कि यह मामला मनातू थाना में कांड संख्या 51/18 दर्ज किया गया है। छापामारी दल में अभियान एसपी अरूण कुमार सिंह, सीआरपीएफ के द्वितीय कमान अधिकारी टीएम पैथे, सहायक अवर निरीक्षक नरेश प्रसाद यादव समेत क्यूआरटी के जवान व सैट के जवान शामिल थे। बताया जाता है कि वर्ष 2017 के फरवरी माह में माओवादियों के खिलाफ मनातू थाना क्षेत्र में चलाए जा रहे सर्च अभियान के दौरान हार्डकोर नक्सली संदीप और परमजीत द्वारा उक्त हथियार छिपाए जाने की संभावना है।