प्रदेश अध्यक्ष बनने पर पहली बार हुसैनाबाद पहुंचे पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह ,कर्यकर्ताओं ने किया गजे बाजे के साथ भव्य स्वागत

   

 प्रदेश अध्यक्ष बनने पर पहली बार हुसैनाबाद पहुंचे पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह ,कर्यकर्ताओं ने किया गजे बाजे के साथ भव्य स्वागत

 समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ मिलकर राज्य का करेंगे विकास- कमलेश

पलामूः राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत होने पर हुसैनाबाद पहुंचे पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह का कार्यकर्ताओं ने गाजे बाजे के साथ भव्य स्वागत किया। सुबह से ही कार्यकर्ता जपला-छतरपुर मुख्य पथ के खराड़ गांव  स्थित सीमा पर जमे रहे। पूर्व मंत्री सह राकांपा के प्रदेश अध्यक्ष कमलेश कुमार सिंह के वहां पहुंचते ही कमलेश सिंह जिंदाबाद, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी जिंदा बाद आदि नारे लगाये गये। कार्यकर्ताओं ने उन्हें फूल माला देकर भव्य स्वागत किया। करीब एक सौ बाइक से उनकी अगुवानी की गई। बड़ी संख्या में जुटे कार्यकर्ताओं की टोली में वह हुसैनाबाद आवास सह पार्टी कार्यालय पहुंचे। उन्होंने पत्रकारों को बताया कि पार्टी सुप्रीमो शरद पवार ने उन्हें जो दायित्व सौंपा है। उसे वह बखूबी निभाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी जिला प्रखंड स्तर तक पार्टी का संगठन खड़ाकर बूथ स्तर तक इसे मजबूत करेंगे। उन्होंने कहा कि वह साम्प्रदायिक शक्तियों को परास्त करने के लिए समान विचार धारा वाली पार्टियों के साथ मिलकर झारखंड की दशा को सुधारने में पूरा योगदान देंगे व राज्य के विकास में सहयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी जात-पात, सम्प्रदाय वाद से बिलकुल अलग है। उन्होंने कहा कि पार्टी जमात की राजनीति में विश्वास रखती है। देश क्षेत्र का विकास पार्टी का मूल मंत्र है। उन्होंने कहा कि पार्टी आने वाले विधान सभा चुनाव में अच्छी उपस्थिति दर्ज करायेगी। उन्होंने कहा कि हुसैनाबाद को जिला हरिहरगंज को अनुमंडल बनाने की मांग के लिए 19 नवंबर को हुसैनाबाद अनुमंडल कार्यालय के समक्ष विशाल धरना प्रदर्शन किया जायेगा। पार्टी इस मांग को लेकर आगे भी चरणबद्ध आंदोलन चलायेगी। उन्होंने कहा कि हुसैनाबाद को जिला व हरिहरगंज को अनुमंडल का दर्जा दिलाना उनके राजनीतिक जीवन का सबसे बड़ा मक्सद है। मौके पर पार्टी के जिला अध्यक्ष अजित सिंह, अनुमंडल अध्यक्ष वसीम अहमद, पार्टी नेता मनान खां, डा. मनान खान, सुहैल अहमद, राजकुमार ठाकुर, योगेंद्र कुमार सिंह, पप्पु सिंह, चंदन सिंह, अजय सिंह, जाफर इमाम,श्याम बिहारी मेहता के अलावा सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे।