पलामू- भाजपा की बैठक में बूथ कमिटी को मजबूत बनाने पर बल

                                                भाजपा की बैठक में बूथ कमिटी को मजबूत बनाने पर बल

मेदिनीनगर। परिसदन भवन में भाजपा की बैठक हुई। अध्यक्षता नरेंद्र पांडे व संचालन उपेंद्र सिंह ने किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि 23 नवंबर को पार्टी की जिला कार्ययसमिति की बैठक टाउन हॉल में होगी। इसमें जिला कार्यसमिति के सभी सदस्य, मंडल अध्यक्ष एवं महामंत्री, मोर्चा के मंडल अध्यक्ष एवं महामंत्री, पंचायत के संयोजक एवं सहसंयोजक, पंचायत एवं मंडलों के प्रभारी और 20 सूत्री अध्यक्ष शामिल होंगे। बैठक में प्रदेश के निर्देशानुसार शक्ति केंद्रों के पंचायत प्रभारियों, संयोजक एवं सहसंयोजक को तीव्र गति से पार्टी का दैनिक कार्य करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावे विधानसभा स्तर पर सोशल मीडिया हेतु एक संयोजक और दो सहसंयोजक नियुक्त करने का निर्देश दिया गया। कहा गया कि प्रत्येक विधानसभा में प्रत्येक बूथों के एक पुरुष और एक महिला लाभार्थियों की सूची समर्पित करें। आगामी 25 से 30 नवंबर तक प्रदेश, जिला व मंडल स्तर पर पार्टी समर्थक एवं पार्टी विचारधारा से जुड़े नए लोगों को पार्टी में शामिल कराने की सूची देने का निर्देश दिया गया। जिला अध्यक्ष नरेंद्र पांडे ने कहा कि पार्टी के निर्देशानुसार शक्ति केंद्र योजना का कार्य पूर्ण जवाबदेही से करने वाले कार्यकर्ता धन्यवाद के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि 19 नवंबर को मुख्यमंत्री रघुवर दास पलामू आएंगे और कार्यकर्ताओं के साथ चौपाल में भाग लेंगे। भाजपा के वरिष्ट नेता श्याम नारायण दुबे ने कहा कि चुनाव महत्वपूर्ण है। हर चुनाव चुनौती होता है। देश आगे बढ़ रहा है, इसे और आगे ले जाना है। विपक्षी पार्टियां भारत को बढ़ने देना नहीं चाहती, इसलिए वह भ्रम फैला रही हैं। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को हर चुनौती का उत्तर देना है। कार्यकर्ता अपनी जवाबदेही पूर्ण करें और लक्ष्य के प्रति समर्पित रहें। भाजपा के वरीय नेता प्रेम सिंह ने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देशानुसार संगठनात्मक रूप से बूथ मजबूती पर विशेष बल दिया जा रहा है। चुनावी वर्ष है, इसलिए सत्यापित बूथ कमेटी मजबूत हो। कार्यकर्ताओं का परिश्रम रंग लाएगा और पार्टी का परचम 2019 में दोबारा लहरायेगा। बैठक में राम प्रवेश सिंह, शिव कुमार मिश्रा, अजय राम, अरविंद सिंह, धर्मेंद्र उपाध्याय, सीटू गुप्ता, रिंकी यादव, मंजू गुप्ता, धीरेंद्र उपाध्याय, सोमेश सिंह, किशोर सिन्हा, अभिमन्यु तिवारी, संजय पांडेय, विमलेश यादव, राजहंस अग्रवाल, नरेंद्र तिवारी, दामोदर तिवारी, प्रवीण सिंह, लोकेश सिंह, श्रीकांत मेहता, सीताराम एवं रामनरेश यादव समेत बड़ी संख्या में भाजपाई उपस्थित थे। 

                                                                   जरूरत पर लें कानून का सहारा : संतोष

मेदिनीनगर। अधिकार का हनन हो तो कानून का सहारा लें। दैनिक जीवन में जब असमानता आने लगती है तो कानून काम करने लगता है। अधिकार का उल्लंघन होता है तो कानून की आवश्यकता होती है। उक्त बातें डोर टू डोर जागरूकता कम्पेयन में टीम के लीडर व अधिवक्ता संतोष कुमार पाण्डेय ने कही। वे जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित 10 दिवसीय डोर टू डोर कम्पेयन में चैनपुर के हुकुवा गांव में ग्रामीणों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि महिलाए नारी शक्ति का प्रतीक हैं। महिलाओ के लिए कई तरह की योजनाए चलाई जा रही है। वर्तमान दौर में महिलायें अपने को असुरक्षित नहीं समझें। इस मौके पर देवराज शर्मा ने कहा कि सत्य के लिए लड़ाई लड़ें। विवाद ऐसा न करें जिसमें खुद बर्बाद हो जाएं। नकारात्मक सोंच बदलें व दूसरे का भला करने की सोंचे, तभी आगे बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपने आप में जो बुरा लगे ऐसा काम मनुष्य को नही करना चाहिए। भागीरथी दूबे ने कहा कि अंधविश्वास के कारण समाज में कई घटनाए हो रही हैं। जागरूकता के बल पर ही अंधविश्वास को समाप्त किया जा सकता है। ग्रामीणों ने गांव में शराब बंदी व जुआरियों पर लगाम लगाने की मांग की। टीम के लोगो ने दहेज प्रताड़ना, लोक अदालत, मध्यस्थता, मोटर दुर्घटना क्लेम, प्राधिकरण द्वारा मिलने वाली सुविधा, स्वास्थ बीमा, मनरेगा, झारखंड पीड़ित प्रतिकार अधिनियम, डायन बिसाही आदि से सम्बंधित कानूनों की जानकारी दी। ग्रामीणों ने अपनी-अपनी समस्या रखी। इस मौके पर गजेन्द्र प्रसाद, श्रीकांत तिवारी, भोला नाथ शर्मा, सुमंत कुमार मेहता, सुचिता एक्का समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे।

सतबरवा। पलामू के प्रसिद्ध राजा मेदनी राय के किला स्थल फुलवरिया में तीन दिवसीय मेला का आयोजन किया गया। गुरुवार को दूसरे दिन मेला में हजारों लोग पहुंचे और मेला का आनंद उठाया। मेला में पहुंचे लोगों ने प्राचान पलामू किला का भ्रमण कर उसकी कलाकृति देखी। भाजपा के युवा प्रदेश मंत्री किसलय तिवारी ने औपचारिक तौर पर दूसरे दिन मेला में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। उन्होंने मेला का उद्घाटन फीता काटकर किया। लोगों को संबोधित करते हुए श्री तिवारी ने कहा कि राजा मेदिनी राय की याद में लगने वाले मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित कराने के लिए वे मुख्यमंत्री से मिलकर उनके समक्ष अपनी मांग रखेंगे। अजजा के प्रदेश मंत्री अवधेश सिंह चेरो ने कहा कि राजा मेदिनी राय का यह किला पलामू की शान है। पूर्व में छठ के पारण के दूसरे दिन दो दिवसीय मेला का आयोजन किया जाता था, पर अब पारण के लगातार तीन दिवसीय मेला का आयोजन होगा। चेरो वंशज के राजा मेदिनी राय हमेशा चाहते थे कि गरीबों के घर में गाय हो और लोग उसकी सेवा करें। उन्होंने कहा कि “धन्य-धन्य राजा मेंदनिया, घर-घर बाजे मथानिया“ पूर्वजों के द्वारा कहा गया यह श्लोगन आज भी चर्चित है। इस दौरान सतबरवा प्रशासन और स्थानीय कमेटी के अध्यक्ष विश्वनाथ सिंह मौजूद थे।

                                                                                      चर्चा में रही मेला जानेवाली सड़क                                 

                 सतबरवा से पलामू किला मेला जाने वाली सडक जो ठेंमी मोड़ से डालटेनगंज-रांची मुख्य मार्ग से कटकर किला मेला तक जाती है, यह सड़क मेला में आये लोगों के बीच चर्चा का विषय बना रहा। सड़क की जर्जर स्थिति के कारण हजारो लोगां ने पगडंडियां के सहारे मेला तक जाना पसंद किया। यह सड़क यहा के सफेद पोशो के लिए मात्र दुधारू गाय बनकर रह गयी है। इस मेला के नाम पर कई बार मिट्टी मोरम से सड़क मरम्मति का काम किया गया लेकिन सिर्फ काम के नाम पर कतिपय लोगों का पॉकेट गरम होता रहा। आज भी सड़क की स्थिति वैसी ही जर्जर है। मेला में पहुंचे लोगों ने इस सड़क का हाल देख जमकर यहां के नेताओं को कोसा। बताते चले कि स्थानीय राजनेताओं और जनप्रतिनिधियों ने इस मेला के नाम पर क्षेत्र की जनता को ठगने का काम किया है।