पलामू: लोक अदालत में 109 मामलों का निपटारा, लाखों का हुआ सेटलमेंट और रियलाइजेशन

                             पलामू: लोक अदालत में 109 मामलों का निपटारा, लाखों का हुआ सेटलमेंट और रियलाइजेशन  

डालटनगंज, 24 नवम्बर: पलामू जिला विधिक् सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में शनिवार को व्यवहार न्यायालय परिसर में लोक अदालत का आयोजन किया गया। इसका उदघाटन पलामू के प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश विजय कुमार ने द्वीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर 109 मामले का  निस्तारण किया गया।

मामले निस्तारण को ले छह पीठों का गठन किया गया था। प्रथम पीठ में एम्एसीटी व विद्युत विभाग के मामले का निस्तारण डीजे प्रथम डी.के पाठक व अधिवक्ता प्रदीप कुमार ने किया। पीठ संख्या दो में सिविल मामले का निस्तारण डीजे दितीय आनंद प्रकाश व अधिवक्ता संतोष कुमार पांडे ने किया। पीठ संख्या तीन में आपराधिक वादों का निस्तारण एसीजेएम आसिफ इकबाल व अधिवक्ता लल्लू प्रसाद सिंह ने किया।

पीठ संख्या चार में प्रीलिटीगेशन के मामले के निस्तारण जेएम रोहित कुमार व अधिवक्ता वीएन मिश्रा ने किया। पीठ संख्या पांच में एक्सक्यूटिव व रेवेन्यू के मामले का निस्तारण सदर एसडीएम् एन.के गुप्ता व अधिवक्ता शशि आलोक सिन्हा ने किया। व पीठ संख्या छह में रेलवे कोर्ट के मामले का निस्तारण रेलवे जे.एम विक्रान्त रंजन व अधिवक्ता संजय कुमार सिन्हा ने किया। 

लोक अदालत में 5 लाख 12 हजार 429 रूपये राजस्व की प्राप्ति हुई। 5 लाख 22 हजार 348  रूपये का मामला सेटल हुआ। वन विभाग को 2 लाख 52 हजार रूपये राजस्व प्राप्त हुआ। उत्पाद विभाग को 35 हजार राजस्व प्राप्त हुआ। बीएसएन ल को 1 लाख 6 हजार 348 रूपये राजस्व प्राप्त हुआ। एमएसीटी के एक बाद में 1 लाख 25 हजार रूपये का चेक दिया गया। 

मौके पर पीडीजे विजय कुमार ने कहा कि लोक अदालत का निर्णय अंतिम होता है। लोक अदालत में सुलभ सस्ता व शीघ्र न्याय मिलता है। मौके पर अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सचिदानंद तिवारी उर्फ नेहरू ने कहा कि लोक अदालत सुलभ न्याय का सबसे उत्तम मंच है। 

इस मौके पर डीजे डीके पाठक, आनंद प्रकाश, शतुन्जय सिंह, बी के तिवारी, मनीष रंजन , पंकज कुमार, संजय कुमार चैधरी, आसिफ इकवाल, अशोक कुमार, रोहित कुमार, एमजेड तारा, मनोज कुमार, सतीश मुंडा, अमित गुप्ता, डीएसपी प्रेमनाथ, राजेश्व पाण्डेय, महेंद्र तिवारी, संतोष कुमार पांडे, पुरूषोतम लाल, वीणा मिश्रा समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे।


                            पलामू: मजदूरी के लिए पलायन करना पड़ा महंगा, मिली मौत-पांच गंभीर 

डालटनगंज, 24 नवम्बर: दो वक्त की रोटी के जुगाड़ करने के लिए पलायन कर दूसरे प्रदेश जा रहे मजदूर की हादसे में मौत हो गयी। पांच मजदूर जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। उनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। मृत मजदूर की पहचान पांकी के आसेहार निवासी रविन्द्र भुइयां (24वर्ष) के रूप में हुई है। घायलों में नेपाली भुईयां, छठन भुईयां, अखिलेश भुईयां, सुनील भुईयां और किशोर भुईयां हैं।    

मजदूर की मौत के बाद शनिवार को लोग भड़क गए और मुआवजे की मांग को लेकर तरहसी में मुख्य पथ को जाम कर दिया। सूचना मिलने पर पांकी सीओ और थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराकर जाम हटवाया। तत्काल 3 हजार रूपये दाह संस्कार के लिए दिया गया। 50 किलो चावल भी दिया गया। अन्य सरकारी प्रावधान के तहत मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया गया। 

जानकारी के अनुसार रविन्द्र भुइयां के अलावा पांच युवक मजदूरी के सिलसिले में पंजाब जा रहे थे। उन्हें डालटनगंज में आकर ट्रेन पकड़ना था। लेस्लीगंज के महावीर मोड़ पर टेम्पो दुर्घटना में रविन्द्र भुइयां सहित अन्य मजदूर जख्मी हो गए। इलाज के दौरान रविन्द्र की मौत हो गयी। रविन्द्र की शादी एक वर्ष पहले हुई थी। बचपन में पिता की मौत हो जाने पर घर में वह इकलौता कमाने वाला युवक था। पांकी विधानसभा क्षेत्र में रोजगार के ठोस साधन नहीं होने रविन्द्र की तरह अन्य युवक पलायन करते हैं और असमय काल के गाल में समा जाते हैं। 

 

                                 पारा शिक्षकों का बीआरसी में धरना-प्रदर्शन, कल करेंगे जनप्रतिनिधियों के आवास का घेराव  

डालटनगंज, 24 नवम्बर: पूरे राज्य में पारा शिक्षकों के आंदोलन लगातार जारी है। इसके तहत शनिवार को पलामू जिला प्रखंड मुख्यालय के बीआरसी भवन में सैकड़ों पारा शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया। पारा शिक्षकों ने सरकार द्वारा बर्खास्त करने और जेल भेजे जाने की कार्रवाई को पारा शिक्षकों की एकता का सरकार के अंदर दिख रहे भय का परिणाम बताया। उन्होंने कहा कि इस कार्रवाई से आंदोलन पर किसी तरह का कोई असर नहीं पड़ेगा। कल से क्षेत्रीय विधायक के आवास का अनिश्चितकाल के लिए घेराव कार्यक्रम शुरू किया जायेगा।

इधर, सरकार के निर्देश के आलोक मेें पारा शिक्षकों को हटाने संबंधी दिशा में जिला प्रशासन ने काम करना शुरू कर दिया है। इस संबंध में जिला शिक्षा अधीक्षक के माध्यम से जिले के सभी बीईईओ से हड़ताली पारा शिक्षकों की सूची मांगी गयी है। आज से शिक्षा विभाग पारा शिक्षकों के बर्खास्त करने की दिशा में कदम बढ़ा दिया है। 

स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग के सचिव अमरेंद्र प्रताप सिंह ने जिले के उपायुक्त, जिला जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला शिक्षा अधीक्षक को सबसे पहले पारा शिक्षकों के हड़ताल के कारण बंद हो चुके स्कूलों में किसी भी हाल में इस सप्ताह से पढ़ाई शुरू कराने का आदेश दिया है। 

सचिव के आदेश के आलोक में यह काम जिला स्तर पर शुरू कर दिया गया है। टेट पास सफल अभियर्थियों से सोमवार तक आवेदन मांगा गया है। इच्छुक आवेदकों का मूल प्रमाण पत्र जांच के बाद ही उन्हें स्कूलों में पढ़ाने के लिए विभाग अधिकृत करेगा।

जिला शिक्षा अधीक्षक मसूदी टुडू ने कहा कि हड़ताली पारा शिक्षकों पर शिक्षा विभाग के सचिव के मिले निर्देश के तहत कार्रवाई की जायेगी। उनकी पहली प्राथमिकता है, हड़ताल के कारण पढ़ाई बाधित होने वाले स्कूल में पढ़ाई और मध्याहन भोजन शुरू कराना।

                                                 सत्ता पक्ष के सांसद और विधायकों के आवास का होगा घेराव 

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की पलामू इकाई की ओर से निर्णय लिया गया है कि रविवार से सत्ता पक्ष के सांसद और विधायकों के आवास का घेराव अनिश्चितकाल के लिए किया जायेगा। डालटनगंज के क्षेत्रीय विधायक आलोक चैरसिया का आवास सदर, चैनपुर, सतबरवा और रामगढ़ के पारा शिक्षक करेंगे। इसी तरह छत्तरपुर विधायक सह सतापक्ष के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर के आवास का घेराव पाटन, छत्तरपुर, नौडीहा बाजार और पंडवा, जबकि विश्रामपुर विधायक से प्रदेश के मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी के आवास का घेराव उंटारी रोड, विश्रामपुर के अलावा गढ़वा जिले के कांडी, बरडीआ और मझीआंव के पारा शिक्षक करेंगे। पलामू सांसद के आवास के घेराव की जिम्मेवारी पांकी, तरहसी, मनातू, लेस्लीगंज के पारा शिक्षक संभालेंगे।