पारा शिक्षकों का बीआरसी में धरना-प्रदर्शन, कल करेंगे जनप्रतिनिधियों के आवास का घेराव

                                      पारा शिक्षकों का बीआरसी में धरना-प्रदर्शन, कल करेंगे जनप्रतिनिधियों के आवास का घेराव 

डालटनगंज, 24 नवम्बर: पूरे राज्य में पारा शिक्षकों के आंदोलन लगातार जारी है। इसके तहत शनिवार को पलामू जिला प्रखंड मुख्यालय के बीआरसी भवन में सैकड़ों पारा शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया। पारा शिक्षकों ने सरकार द्वारा बर्खास्त करने और जेल भेजे जाने की कार्रवाई को पारा शिक्षकों की एकता का सरकार के अंदर दिख रहे भय का परिणाम बताया। उन्होंने कहा कि इस कार्रवाई से आंदोलन पर किसी तरह का कोई असर नहीं पड़ेगा। कल से क्षेत्रीय विधायक के आवास का अनिश्चितकाल के लिए घेराव कार्यक्रम शुरू किया जायेगा।

इधर, सरकार के निर्देश के आलोक मेें पारा शिक्षकों को हटाने संबंधी दिशा में जिला प्रशासन ने काम करना शुरू कर दिया है। इस संबंध में जिला शिक्षा अधीक्षक के माध्यम से जिले के सभी बीईईओ से हड़ताली पारा शिक्षकों की सूची मांगी गयी है। आज से शिक्षा विभाग पारा शिक्षकों के बर्खास्त करने की दिशा में कदम बढ़ा दिया है। 

स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग के सचिव अमरेंद्र प्रताप सिंह ने जिले के उपायुक्त, जिला जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला शिक्षा अधीक्षक को सबसे पहले पारा शिक्षकों के हड़ताल के कारण बंद हो चुके स्कूलों में किसी भी हाल में इस सप्ताह से पढ़ाई शुरू कराने का आदेश दिया है। 

सचिव के आदेश के आलोक में यह काम जिला स्तर पर शुरू कर दिया गया है। टेट पास सफल अभियर्थियों से सोमवार तक आवेदन मांगा गया है। इच्छुक आवेदकों का मूल प्रमाण पत्र जांच के बाद ही उन्हें स्कूलों में पढ़ाने के लिए विभाग अधिकृत करेगा।

जिला शिक्षा अधीक्षक मसूदी टुडू ने कहा कि हड़ताली पारा शिक्षकों पर शिक्षा विभाग के सचिव के मिले निर्देश के तहत कार्रवाई की जायेगी। उनकी पहली प्राथमिकता है, हड़ताल के कारण पढ़ाई बाधित होने वाले स्कूल में पढ़ाई और मध्याहन भोजन शुरू कराना।

सत्ता पक्ष के सांसद और विधायकों के आवास का होगा घेराव 

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की पलामू इकाई की ओर से निर्णय लिया गया है कि रविवार से सत्ता पक्ष के सांसद और विधायकों के आवास का घेराव अनिश्चितकाल के लिए किया जायेगा। डालटनगंज के क्षेत्रीय विधायक आलोक चैरसिया का आवास सदर, चैनपुर, सतबरवा और रामगढ़ के पारा शिक्षक करेंगे। इसी तरह छत्तरपुर विधायक सह सतापक्ष के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर के आवास का घेराव पाटन, छत्तरपुर, नौडीहा बाजार और पंडवा, जबकि विश्रामपुर विधायक से प्रदेश के मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी के आवास का घेराव उंटारी रोड, विश्रामपुर के अलावा गढ़वा जिले के कांडी, बरडीआ और मझीआंव के पारा शिक्षक करेंगे। पलामू सांसद के आवास के घेराव की जिम्मेवारी पांकी, तरहसी, मनातू, लेस्लीगंज के पारा शिक्षक संभालेंगे। 

                                                       डीआरडीएकर्मी हत्याकांड के तीसरे आरोपी का सरेंडर

डालटनगंज 24 नवंबर : डीआरडीएकर्मी सुधीर कुमार रौशन हत्याकांड में शामिल तीसरे अपराधी आशीष कुमार उर्फ नमी चन्द्रवंशी ने पुलिस के बढ़ते दबाव के कारण आज न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। मालूम हो कि गत 26 अक्टूबर को सुधीर कुमार की हत्या जीतेन्द्र कुमार सिंह नामक अपराधी ने गोली मारकर कर दी थी। नमी चन्द्रवंशी बाइक से जीतेन्द्र कुमार को लेकर भागने में सफल रहा था। 

शहर थाना की पुलिस ने पिछले सप्ताह सुधीर हत्याकांड में जीतेन्द्र कुमार सिंह और चैनपुर के जिला पार्षद शैलेन्द्र कुमार शैलू को गिरफ्तार कर लिया था और नमी की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही थी। शहर थाना प्रभारी आनंद कुमार मिश्रा ने बताया कि पुलिस नमी चन्द्रवंशी को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। 

         नमी ने खुद को बताया बेकसूर

कोर्ट में सरेंडर करने के बाद थर्ड आई से बातचीत करते हुए नमी ने खुद को बेकसूर बताया। नमी ने जानकारी दी कि हत्या के दिन वह रांची के हटिया स्थित कृषि ट्रेनिंग सेंटर के कैंटिन में काम कर रहा था। इस संबंध में वहां लगे सीसीटीवी कैमरे के साथ-साथ उपस्थिति पंजी की जांच की जा सकती है। एक अपराधी के बयान पर उसे फंसाने का काम किया गया है। नमी ने पुलिस प्रशासन से न्याय की गुहार लगायी है।

सतबरवा, 24 नवम्बर : दशहरा के दशमी के दिन प्रतिमा विसर्जन के दौरान दो समुदायों के बीच शुरू हुआ विवाद सुलझा लिया गया है। दोनों पक्षों द्वारा एक दूसरे की दुकानों और प्रतिष्ठानों पर लगाया गया प्रतिबंध भी प्रशासनिक स्तर पर बैठकर कर हटा लिया गया है। कल शाम से दोनों समुदायों के प्रतिष्ठानों से खरीदारी भी शुरू कर दी गयी। सिविल और पुलिस प्रशासन ने दोनों पक्षों से शांति और सौहार्द बरतने का आग्रह किया है।

ज्ञात हो कि विवाद के बाद दोनों पक्षों ने एक दूसरे की दुकानों में प्रतिबंध लगा रखा था और सामान देने वाले दुकानदारों पर आर्थिक जुर्माना के साथ शारीरिक दंड का भी प्रस्ताव रखा गया था।   

प्रखंड सभाागार में बैठक कर सुलझाया गया मामला

प्रखंड कार्यालय के सभागार में दोनों समुदायों की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता बीडीओ उज्जवल सोरेन ने की, जबकि संचालन थाना प्रभारी राणा जंगबहादूर सिंह ने किया। मौके पर दोनों समुदाय के लोगों ने कहा कि अहम की लडाई में गरीब पक्ष के लोग पीस रहे हैं। एक माह से लगे प्रतिबंध के कारण दोनांे पक्षों को लाखों का नुकसान उठाना पड़ा है। 

उलझन बढ़ाने से कुछ नहीं होगा। समस्या का समाधान विवाद और तनाव से नहीं हो सकता। चाय, नाश्ता के साथ-साथ सैलून, खेती-बाड़ी, मजदूरों की मजदूरी के पर पाबंदी लगाए जाने से दोनों पक्षों को अबतक भाी नुकसान हुआ है। बीडीओ ने कहा कि कहा कि दोनों समुदाय के लोग धन्यवाद के पात्र हैं। 

बैठक में कौन-कौन रहे शामिल 

बैठक मंे बकोरिया गांव के हाजी जुमराती, हाफिज जुबैर, संजय यादव, मुखिया संजय मिश्रा, केवल उरांव, कन्हाई साहू, सोनू सिकंदर, विनय सिंह, नागेंद्र प्रसाद, भोलाराम, जेएसआई जेवियर मिंज, नागा मेघराज सहित दोनों पक्षों के सैकड़ों लोग मौजूद थे। सभी ने एक मत से लेन-देन करने और पूर्व की स्थिति बहाल करने की बात कही है। 

शाम में शुरू हुआ लेन-देन 

लेन-देन की घोषण के बाद शाम में बीडीओ व थाना प्रभारी के नेतृत्व में दोनों समुदाय के लोगों ने एक-दूसरे की दुकानों से खरीददारी शुरू कर प्रतिबंध को तोड़ा। खरीदारी शुरू होने पर दुकानदारों के साथ-साथ खरीददारों ने राहत की सांस ली है। 

                  ग्रामीण दृश्य-सिंचाई के साधन व जीवन में स्वच्छता के महत्व विषय पर प्रतियोगिता का आयोजन

प्रतियोगिताओं से निखरती हैं बच्चों की प्रतिभा, ग्रामीण क्षेत्रों का होता है विकास: अविनाश

डालटनगंज, 24 नवम्बर: शहर के प्रतिष्ठित संत मरियम विद्यालय परिसर में शनिवार को वर्ग 2 एवं 3 के बच्चों के लिए ग्रामीण दृश्य एवं वर्ग 4 एवं 5 के बच्चों के लिए सिंचाई के साधन व जीवन में स्वच्छता के महत्व पर आधारित प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 

मौके पर प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए विद्यालय के निदेशक अविनाश देव ने कहा कि आज के दौर में प्रतियोगिताओं का सर्वोपरि स्थान है। यही कारण है कि विद्यालय में बच्चों के बीच समय-समय पर विभिन्न विषयों पर आधारित प्रतियोगिताएं कराई जाती हंै, ताकि बच्चे राज्य तथा राष्ट्र स्तरीय प्रतियोगिताओं में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले सकें। जीवन से संबंधित प्रतियोगिताएं समाज को सचेत करती हैं कि लोग अपने जीवन को स्वच्छता तथा सिंचाई के साधन बना सकते हैं। प्रतियोगिता समाप्ति के बाद बच्चों को लातेहार निवासी जादूगर विक्रम द्वारा जादू (हाथ की सफाई) दिखलाया गया, ताकि बच्चे प्रेरित हो सकें।

प्रतियोगिताओं को संपन्न कराने में शिक्षिका निकिता खेतान, रुपाली सिंह तथा कांदला कुमारी ने अहम भूमिका निभाई। 

कार्यक्रम में विद्यालय के प्रधानाचार्य कुमार आदर्श, उप प्रधानाचार्य एस.बी. साहा, गीताली दत्ता, पुष्पी कुमारी, राघवेंद्र रंजन, एस.ए. रहमान, पी.आर. तिवारी, सुधा कुमारी, निवेदिता पांडे, नीता खेतान, बलभद्र पांडे, पल्लवी कुमारी, श्वेता कुमारी, मधु कुमारी, एस.के. साहा, श्रेया, कल्पना, सुमन एवं अन्य शिक्षक-शिक्षिकाओं ने अहम भूमिका अदा की।

                                                                               की हड़ताल नौवें दिन जारी 

डालटनगंज, 24 नवम्बर : स्थायीकरण एवं समान काम के बदले समान वेतन की मांग को लेकर लगातार नौवें दिन शनिवार को भी मनरेगाकर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रही। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे जिला अध्यक्ष विकास पाण्डेय ने कहा कि राज्य सरकार के आला अधिकारी मनरेगाकर्मियों को बरगलाने का काम कर रहे हैं। 

ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव अविनाश कुमार द्वारा एक सप्ताह के अंदर लिखित वार्ता करने का आश्वासन दिया गया था, किंतु अभी तक इस दिशा में कोई पहल नहीं की गयी। इससे प्रतीत होता है कि राज्य सरकार मनरेगाकर्मियों की मांगों के प्रति गंभीर नहीं है।

प्रधान महासचिव आनंद कुमार ने कहा कि इस बार मनरेगाकर्मी राज्य सरकार के छलावा में नहीं आएंगे। राज्य सरकार सिर्फ आश्वासन देकर मनरेगाकर्मियों को हड़ताल से वापस लौटाना चाहती है। 

मौके पर प्रदेश संगठन मंत्री ज्योति किस्पोट्टा, प्रमंडलीय अध्यक्ष रणधीर कुमार जायसवाल, प्रदेश उपाध्यक्ष देवेंद्र उपाध्याय ने भी अपने विचार व्यक्त किए। हड़ताल पर दीपक कुमार, दिलीप पाण्डेय, अजय कुमार, मनोज कुमार, अभय दुबे, संजीव कुमार, कृष्णा राम, संजय प्रजापति, रामाकांत तिवारी, लाल देव राम, दिनेश कुमार, नंदन सिंह, जगत मेहता, विश्वनाथ प्रजापति, अजय कुमार, अविनाश ठाकुर, प्रदीप प्रभु, जनेश्वर राम, पुरुषोत्तम कुमार, संजय कुमार रजक, पवन कुमार सिंह एवं शैलेंद्र सिंह शामिल थे। 

                                                                         जांच परीक्षा संपन्न 

पांकी, 24 नवम्बर :डंडार कला स्थित मजदूर किसान इण्टर महाविद्यालय में सत्र 2017/19 एवं सत्र 2018/20 कला, विज्ञान, वाणिज्य के छात्र छात्राओं की जांच परीक्षा शनिवार को शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई। इस संबंध में महाविद्यालय के प्राचार्य केशरी कुमार ने बताया कि जांच परीक्षा 19 नवम्बर से प्रारंभ है जो 6 दिसम्बर तक चलेगी। इस परीक्षा में छात्र- छात्राओं को परीक्षा में सम्मिलित होना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि शनिवार को भौतिकी विज्ञान एवं दर्शन शास्त्र की परीक्षा ली गई। शांतिपूर्ण परीक्षा सम्पन्न कराने में तीस कॉलेज कर्मी लगे है, जिनमे उनके अलावा प्रो डॉ राकेश सिंह, अमरेश कुमार, शैलेन्द्र कुमार, बद्री प्रजापति, कमलेश रंजन, रबिन्द्र सिंह, अवधेश सिंह के नाम प्रमुख है।