1दिसंबर को जलसा , सीरत-उन-नबी और ऑल इंडिया नातिया मुशायरा, हर विचारधारा के विद्वान करेंगे शिरकत।

1दिसंबर को जलसा

 सीरत-उन-नबी और ऑल इंडिया नातिया मुशायरा

हर विचारधारा के विद्वान करेंगे शिरकत

ईरान की अल मुस्तफा यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर मेहंदी महर, अलंबरदार इत्तेहादुल मुस्लिमीन खतीब अहले सुन्नत हजरत मौलाना सैयद इब्राहिम फाजिल हुसैनी (इमाम मस्जिद अहनाफ, मशहद), आकाई हैदर रोशनी तेहरानी ईरान और मौलाना सैयद याहया फाजली हुसैनी ईरान आदि इस्लामी स्कॉलर दिसंबर में रांची आएंगे। बहैसियत खास वक्ता और मेहमान वे सभी जलसा सीरत-उन-नबी और ऑल इंडिया नातिया में शिरकत करेंगे। इसका आयोजन 1 दिसंबर को अंजुमन प्लाजा स्थित मौलाना आजाद सभागार में होगा। मुशायरा के कन्वीनर हजरत मौलाना सैयद तहजीबुल हसन रिजवी ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय और नगर विकास मंत्री सीपी सिंह होंगे। वहीं विशिष्ट अतिथि हजरत मौलाना सैयद शाह हुसैन अहमद (सज्जादानशीं दरगाह दीवानशाह अरजानी, पटना), कमाल खान (चेयरमेन राज्य हज कमेटी झारखंड), इरशाद अली आजाद (चेयरमेन राज्य अल्पसंख्यक आयोग झारखंड), रिजवान अहमद खान (चेयरमेन राज्य हज कमेटी झारखंड), इबरार अहमद (सदर अंजुमन इस्लामिया रांची) होंगे। जलसा को मुख्य रूप से मौलाना सादिक हुसैन दिल्ली, डॉ. असगर मस्बाही, डॉ. ओबेदुल्लाह कासमी नाजिम आला मरकजी मजलिस उलेमा होंगे। इनके अलावा मौलाना काजिम रजा बनारस, मौलाना जाइर हुसैन मुजफ्फरपुर, मौलाना तस्लीम रजा गया, एदारा-ए-शरिया के नाजिम आला मौलाना कुतुबुद्दीन रिजवी, इमारत शरिया के मुफ्ती अनवर कास्मी,मुस्लिम मजलिस उल्मा के सदर मौलाना मुफ्ती अब्दुल्लह अजहर, मौलाना तौफीक अहमद कादरी और मौलाना अनसार अहमद कास्मी भी अपने विचार रखेंगे।

     यह शायर बढ़ाएंगे महफिल की रौनक

जाफरी एडुकेशन एंड वेलफेयर मिशन के बैनर तले होने वाले इस कार्यक्रम में स्वागत वक्तव्य सैयद मेहदी इमाम और हज कमेटी के सदस्य इकबाल हुसैन फातमी देंगे। मुशायरा का आगाज कारी सुहेब की तिलावत कुरआन से होगा। शायरों में जफर उजमा, चंदन सा नेहाल, शाबान दिल खैराबादी, ऋषि पांडे, जावेद गोपालपुरी, डॉ. माईल चंदौली, हसन, निजाम कैसर, सुहैल सईद, परवेज रहमानी शामिल होंगे। अध्यक्षता डॉ. शमीम हैदर करेंगे। संचालन निहाल हुसैन सरय्यावी और मौलाना शरीफ अहसन मजहरी करेंगे।

           कल आएंगे होगा इस्तक़बाल

मौलाना तहजिबुल हसन रिज़वी ने कहा कि झारखंड में पहली बार ईरान के 2 सबसे बड़े अलीम आ रहे है। इनके स्वागत के लिए रांची ही नही पूरे राज्य के मिल्लते इस्लामिया स्वागत करने को तैयार है। इन मेहमानों का आगमन बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर 30 नवम्बर को 2:45 बजे पहुंचेगे। इनके आगमन को लेकर पूरे राज्य में हरसोउल्लास का माहौल है। मौलाना ने बताया कि 01 दिसम्बर को इरानी मेहमानों का स्वागत इदरिसिया तंज़ीम स्कूल के करेगा।