भवनाथपुर के विधायक भनु प्रताप शाही ने झारखण्ड के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर नौहट्टा प्रखण्ड के बान्दू एवम हैदरनगर के कबरा कला गांव के मध्य सोन नदी पर पुल बनाने का माँग किया है

भवनाथपुर के विधायक भनु प्रताप शाही ने झारखण्ड के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर नौहट्टा प्रखण्ड के बान्दू एवम हैदरनगर के कबरा कला गांव के मध्य सोन नदी पर पुल बनाने का माँग किया है 

सोन नदी पर पुल बनने से पलामू,गढवा व बिहार के रोहतास की दूरी होगी कम ]तीन किलो मीटर जाने के लिए लोगो को 120 किलोमीटर दूरी तय कर जाना पड़ता है 

सिटी रिपोर्टर नौहट्टा 

झारखण्ड राज्य के भवनाथपुर के विधायक पूर्व मंत्री भानु प्रताप शाही ने  झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास को पत्र लिखकर नौहट्टा  प्रखण्ड के बा न्दू एवम पलामू जिला के हैदरनगर प्रखण्ड के कबरा कला गांव के बीच सोन नदी पर पुल बनाने का मांग किया है । 

विधायक श्री शाही ने मुख्य मंत्री को लिखे अपने पत्र में कहा है कि आदिवासियों का प्रमुख तीर्थ  स्थल ऐतिहासिक रोहतास गढ़ किला इस पुल से मात्र 5 किलो मीटर की दूरी पर स्थित है । उतर कोयल नदी पर बना झारखण्ड राज्य के सबसे बडा सुंडीपुर पुल इस पुल के बिल्कुल बगल में स्थित है । 

 उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि कबरा कलां व बिहार के नौहट्टा प्रखंड के बांदु गांव को सोन नदी पर पुल बनाकर जोड़ दने से  ऐतिहासिक स्थल रोहतास गढ़ कीला की  दूरी झारखण्ड से 120 किलो मीटर कम हो जायेगी। उन्होंने लिखा है कि पलामू के हैदरनगर,हुसैनाबाद, मोहम्मदगंज, उंटारी रोड, विश्रामपुर, छतरपुर, गढ़वा जिला के मझिआंव, कांडी, गढ़वा,बंषीधर नगर ,रमुना आदि के लोगों को बिहार के रोहतास जिला तक जाने के लिए 120 किलो मीटर दूर डेहरी आॅन सोन में सोन नदी का पुल है। जबकि कबरा कलां में सोन नदी पर पुल निर्माण हो जाने से पलामू व गढ़वा के लोग 5 से 20 किलोमीटर का सफर तय करने पर बिहार के ऐतिहासिक रोहतास गढ़ पहुंच सकेंगे। उन्होंने लिखा है कि पलामू व गढ़वा के अधिसंख्य लोगों का पूर्व से ही शादी सम्बन्ध व  लगाव के साथ जाना है । दूरी ज्यादा होने के कारण लोगो को आने जाने में घोर कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है समय के साथ पैसा भी ज्यादा खर्च करना पड़ता है । सोन नदी पर पुल बन जाने से लोगो को काफी सुबिधा मिलेगा साथ ही व्यवसायिक दृष्टि से भी यह पुल लाभदायक साबित होगा । 

 विधायक ने लिखा है कि कबरा कलां पुरातात्विक महत्व का स्थान है। जबकि रोहतास गढ़ ऐतिहासिक स्थल है। पुल का निर्माण होने से यह दोनो स्थान पांच किलो मीटर के अंदर आ जायेंगे। पर्यटन के विकास के लिए भी यह काफी महत्पूर्ण साबित होगा। उन्होंने मुख्य मंत्री रघुबर दास को लिखा है कि पंसा-सुंडिपुर कोयल नदी पर बना राज्य का सबसे लंबा पुल के बगल में कबरा कलां सोन नदी पर पुल बनने से दोनो पुल की उपयोगिता बढ़ जायेगी। उन्होंने जनहित में पुल का निर्माण कराने की मांग की है।