छठ पर्व करने पर जिला प्रशासन ने रोका तो उसका पुरजोर विरोध करेंगे बीजेपी के पूर्व विधायक

रिपोर्ट /  संतोष दुबे   सासाराम से बीजेपी के पूर्व विधायक जवाहर प्रसाद ने सरकार और जिला प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है !  उन्होंने कहा कि छठ पर्व करने पर जिला प्रशासन ने रोका तो उसका पुरजोर विरोध करेंगे  !  वही जवाहर प्रसाद ने कहा कि चुनाव के समय बड़े पैमाने पर नेताओं द्वारा  जबरदस्त भीड़ इकट्ठा की गई ! उस वक्त करोना महामारी फैलने का डर सरकार को नहीं सता रहा था  !  लिहाजा प्रशासन  करोना के नाम पर सनातन धर्म के इस महान पर्व को मनाने से रोक रही है!  उन्होंने अपने तीखे आवाज में कहा कि सनातन धर्म के महान पर्व छठ तलाव नदी और पोखरा में मनाया जाता है !  आखिर इस पर्व को घर में कैसे मनाया जाएगा!  इसे लेकर छठ व्रतियों में भी असमंजस का माहौल बना हुआ है!   लेकिन मैं छठ तालाब में जाकर इस महान छठ का पूजा अर्चना करेंगे!  और भगवान भास्कर को नमन करेंगे ! जिसको जो करना है वह कर ले लेकिन मैं अपने आस्था से पीछे नहीं हटूंगा !  और छठ तालाब में ही करूंगा !  इसके लिए मुझे जेल जाना पड़ेगा तो मैं जेल जाऊंगा ! लेकिन अपनी आस्था को नहीं छोडूंगा  !  गौरतलब है कि बिहार सरकार के गृह विभाग द्वारा एक आदेश जारी किया गया है !  इसमें लोगों से कहा गया है कि महान पर्व छठ को अपने घरों के अंदर ही मनाएं ! लिहाजा जवाहर प्रसाद ने इस आदेश का विरोध करने की घोषणा की है !  ऐसे में सरकार की गाइडलाइंस के द्वारा छठ व्रतियों में भी असमंजस का माहौल बना हुआ है !