कमलेश सिंह के जनसभा व रोड शो में उमड़ा जन सैलाब

पलामू: हुसैनाबाद विस क्षेत्र के हैदरनगर  छठ घाट के मैदान में पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह ने चुनावी जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने सभा के बाद रोड शो भी किया। रोड शो में भारी संख्या में लोग शामिल हुए। कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह है। बाजार में उन्हें पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। महिलाओं ने अपने अपने छत से पुष्प वर्षा की। जनसभा में पूर्व मंत्री कमलेश कुमार सिंह ने कहा कि वह स्वच्छ व विकास की राजनीति में विश्वास रखते हैं। यही वजह है कि आज हरेक वर्ग के लोगों का प्यार व स्नेह उन्हें मिल रहा है। उन्होंने कहा कि हरेक दिन सैकड़ों की संख्या में विभिन्न दल के लोग एनसीपी में शामिल हो रहे हैं। उन्होंने उपस्थित लोगों को कहा कि उनका पहला काम हुसैनाबाद को जिला व हरिहरगंज को अनुमंडल का दर्जा दिलाना होगा। उन्होंने कहा ेिक कमलेश जो वादा करते हैं ,उसे वह निभाने का काम करते हैं। इसका उदाहरण उनका पूर्व का कार्यकाल है। उन्होंने कहा कि उनके पूर्व व बाद के जनप्रतिनिधियों ने क्या किया। जनता जानती है। उन्होंने कहा कि हुसैनाबाद हरिहरगंज में स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली की बेहतर व्यवस्था के साथ युवाओं को रोजगार की व्यवस्था वह करायेंगे। उन्होंने कहा कि जाति, धर्म सम्प्रदाय से अलग होकर उन्हें विकास के काम पर घड़ी छाप के निषान पर वोट कर विधान सभा भेजने का काम करें। वह दिखा देंगे की जनता का सच्चा जनप्रतिनिधि कैसा होता है। उन्होंने कहा कि पहले भी दिखा चुके हैं। स्वास्थ्य शिक्षा बिजली के साथ साथ विधानसभा क्षेत्र में तीन प्रखंडों का निर्माण कराया। एक वर्श सरकार और रहती तो हुसैनाबाद जिला, हरिहरगंज अनुमंडल, दंगवार व कामगारपुर प्रखंड होता। उन्होंने कहा कि उन्हें इन अधूरे कार्यों को पूरा करना है। युवा नेता सूर्या सिंह ने कहा कि युवाओं के लिए खेल मैदान, कोचिंग की व्यवस्था के साथ स्वास्थ्य की ऐसी व्यवस्था होगी, जिससे लोग बड़े षहरों की तरफ रुख नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में भी एनसीपी ने पहले भी किया है। आगे भी करना चाहती है। उन्होंने युवाओं से एनसीपी के पक्ष में घड़ी छाप पर बटन दबाने की अपील की। जनसभा में जनता ने कमलेश कुमार सिंह को जीत की माला पहनाया। कार्यक्रम में अजित सिंह, डा. आरपी रंजन, बिहारी पासवान, महेंद्र पासवान, विनय पासवान, सिराज अंसारी, डा. अमिनुल हक अंसारी, सज्जु खान, बलराम मेहता, ष्याम बिहारी मेहता, षिवनारायण मेहता,अरषुद्दीन खान,हाजी मोजिबुद्दीन, जावेद खान, जयप्रकाष सिंह, मिथिलेष सिंह,संजय राम, संजय सिंह के अलावा बड़ी संख्या में कार्यकर्ता षामिल थे।